9 Effective SEO Factors That Can Rank Your Business in Local Searches

Local SEO in Hindi

“Local SEO एक तकनीक है जिसमें हम अपनी business website इसतरह optimize करते है की वो किसी विशिष्ट क्षेत्रों या शहरोंकी local searches में सबसे उपर आ जाये।”

“Book store in Dadar”

“Laptop repair shop near me”

अगर आप स्मार्टफोन इस्तेमाल करते है तो आपने कभी ना कभी तो ऐसे सर्च किया ही होगा। इसे लोकल सर्चेस बोला जाता है।

आज १० में से ७-८ सर्चेस ऐसेही Local places ढूंढने के लिए किये जाता है।ऐसे सर्चेस में लोगों का इरादा होता की उन्हें एक शॉप या फिर स्टोर दिखाया जाये।

मान लीजिये आप के शहर में ३०-४०  लॅपटॉप रिपेयरिंग स्टोअर्स है। अब कोई आप के शहर में सर्च करता है Laptop repair shop near me तो वहाँ पे स्टोअर की लिस्ट आ जाएगी।  यहाँ पे पहले ३ जो रिजल्ट्स होते है, वहाँ क्लिक होने के चान्सेस बहुत ज्यादा होता है। ये रिजल्ट्स आपके लोकेशन की हिसाब से दिखाए जाते है।

अगर आप का भी स्टोर है और वो सर्च रिजल्टमें दूसरे या तीसरे पेज पे आ रहा है तो इसका कुछ फायदा नहीं होगा।

दरअसल गूगल किसी बिज़नेस को लोकल सर्चेस में रैंक करनेके लिए ३ फॅक्टर के ऊपर ज्यादा ध्यान देता है।

१. relevancy

जब कोई यूजर किसी सर्व्हिस के बारे में सर्च करता है तो वो सर्च किसी सर्व्हिस से कितनी अच्छी तरीके से मॅच करता है।

२. Distance

यूजरने जहाँ से सर्व्हिस के बारे में सर्च किया है वहां से सबसे नजदीक कौन सर्व्हिस देता है।

३. Promenece

यूजरने सर्च किये हुए बिज़नेस में कौन सबसे ज्यादा लोकप्रिय है।ये करने के बावजूद भी गूगल और कई फॅक्टर्स का भी इस्तेमाल  करता हैं।

लोकल सर्च में किसी बिज़नेस को पहला स्थान देते समय गूगल बाकि सोशल मिडिया और डिरेक्टरी का भी इस्तेमाल करता है।

मान लीजिये आपके शहर  कोई लोकप्रिय होटल है और वहाँ पे खाना बहुत ही स्वादिष्ट मिलता है। ऐसे लोग वहाँ के खाने को पसंद तो करेंगेही साथ में सोशल मीडिया  शेयर भी करेंगे।  इसतरह गूगल को पता चलता है की ये होटल बढ़िया है और उसकी अथॉरिटी बढाई जाती है। उसकी रैंकिंग ऊपर आने लगती है।

इसका मतलब आपके बिज़नेस को  जितने ज्यादा सोशल सिग्नल्स मिलेंगे उतना ज्यादा आपको फ़ायदा होगा।यहाँ पे हम देखेंगे की ऐसे  कौन से फॅक्टर्स है जिनपे काम करनेसे हम लोकल सर्चिंग में सुधार ला सकते है।

1. Google my business

google my business homepage

इसके बारेमें ज्यादातर लोग जानते नहीं हैं। गूगल की तरफ से ये एक फ्री प्लॅटफॉर्म है जिसका इस्तेमाल करके हम अपना स्टोर याफिर शॉप लिस्टिंग कर सकते है।

आप जब किसी शहर में स्टोअर के बारेमें सर्च करते है तो आपके सामने फ्री और पैड ऐसे दोनों रिज़ल्ट्स आते है। पेड जो होते है वो पैसे दे के लिस्टिंग किये जाते है लेकिन जो ऑर्गनिक तरीकेसे ऊपर आते है वो SEO की वजह से आते है।

इस SEO का आपको बहुत ज्यादा फायदा हो सकता है अगर आप कोई स्टोअर चला रहे है। अगर आपकी ऑफिशिअल वेबसाइट है तो लोकल SEO के मदद से आप ढेर सारा ट्रैफिक और सेल भी जनरेट कर सकते है।

Google my business पे अकाउंट ओपन कर के आप वह पे अपना स्टोअर ऐड कर सकते है। यंहा पे अपने बिज़नेस को ऐड करते समय आप जितनी ज्यादा जानकारी दे सकते है वो दीजिये। आपके बिज़नेस के बारे में पूरी जानकारी, उसके फोटो, बिज़नेस का लोगो, working hourse इ. जानकारी जरूर भरे।

local seo results

2. Citation

Citation का मतलब होता है आप के बिज़नेस का online listing ।

आप जब भी किसी बिज़नेस के बारे में सर्च करते है तो गूगल हमें कुछ Name, Address and Phone number दिखाता है। इसे NAP भी बोला जाता है। ऐसी इंफॉर्मेशंस को ही citations कहाँ जाता हैं।

आप ये NAP जिस किसी वेबसाइट पे बनाएंगे उसे citation कहा जायेगा। ये वेबसाइट कुछ भी हो सकती है जैसी की Business directory , classified website इ. वेबसाइट रैंक करने के लिए जिस तरह हम बैकलिंक्स बनाते है, ठीक उसीतरह लोकल सर्चेस में रैंक बढाने के लिए हम citations बनाते है।

जैसे बैकलिंक के लिए हमें वेबसाइट की लिंक जरुरी होती है वैसे citation के लिए NAP की जरुरत होती है। मतलब इंटरनेट पे जहां जहां पे आप के बिज़नेस के NAP दिखेंगे उसे एक प्रकार का citation कहाँ जायेगा।

Citations बैकलिंक की तरह काम करते है मतलब गूगल की नजर में लोकल सर्चेस में रैंक करने के लिए citation एक पॉवरफुल फॅक्टर माना जाता है।

आपके बिज़नेस के जितने ज्यादा citation होंगे, उतनी ज्यादा आपकी रैंकिंग होगी।

Citations बनाते समय आपको इस चीज़ का ध्यान रखना है की आप जितनी भी वेबसाइट पर citation बना रहे है वहाँ पे आप का NAP एकजैसा होना चाहिए।

बिज़नेस का नाम और अड्रेस एकदम मॅच होना चाहिए। अगर अड्रेस में किसी शॉर्टकट वर्ड्स का इस्तेमाल कर रहे है तो हर जगह वही शॉर्टकट वर्ड्स का इस्तेमाल करें।

निचे दिए गए २ उदाहरण पे नजर डालिये।

१. XYZ

Near St. Xavier’s College, Mumbai.

400001


२. XYZ

Opposite Saint Xavier’s College, Mumbai.

400001

ऊपर दिए गए दोनों एड्रेस में एक ही लोकेशन के बारे में बताया गया है। लेकिन अगर आप citation बनाते समय ऐसे अलग अलग तरीकेसे अड्रेस देते है तो गूगल थोड़ा भ्रमित हो जाता है जिसे एक ख़राब प्रभाव पड़ता है।

Citations बनाते समय पुरे इन्फॉर्मेशन की एक फिक्स कॉपी बनाके रखिये जो हर जगह इस्तेमाल किया जा सके।

और सबसे बड़ी बात जो हमें citation बनाते समय भूलना नहीं चाहिये वो है Quality of Citation ज़ी हाँ। माना की गूगल रैंकिंग के लिए citation को ध्यान में लेता हैं लेकिन साथ में वो उस वेबसाइट की अथॉरिटी भी देखता है जहाँ पे आपने Citation बनाये है। इसलिए सिर्फ क्वांटिटी पे ध्यान ना दे, बल्कि क्वालिटी पे भी ध्यान दीजिये।

Citation बनाने के लिए आप फ्री वेबसाइट्स लिस्टिंग का इस्तेमाल कर सकते है जैसी की Quikr, Indiamart, sulekha इ. ।

3. Schema Markup

Schema markup एक प्रकार कोड है जिसकी मदद से गूगल को बहुत ही अच्छी तरह से हम अपने वेबसाइट की महत्वपूर्ण जानकारी दे सकते है।

Schema markup का फायदा सबसे ज्यादा बिज़नेस लिस्टिंग में होता है। Schema markup की मदद से सर्च इंजिन आपके वेबसाइट में से बिज़नेस का नाम, पता, फोन नंबर इ. जानकारी आसानीसे ढुंडके उसे दिखाता है।

अगर आपके बिज़नेस की वेबसाइट है तो गूगल माय बिज़नेस की लिस्टिंग में आपकी सोशल मीडिया की प्रोफाइल्स भी दिखाई देती है।

अगर आप Schema markup अपनी वेबसाइट में ऐड करते है तो एक प्रकारसे आप गूगल की मदद कर रहे है। आप गूगल का काम आसान कर रहे है जिसका फायदा आपको रैंकिंग में होगा।

अगर लोकल सर्चेस में आपको रैंकिंग बढ़ानी है तो आप भी Schema markup का इस्तेमाल जरूर कीजिये।

गूगल के structure data tool की मदद से आप ये चेक कर सकते आप की वेबसाइटपे Schema markup enable है या नहीं। अगर नहीं है तो प्लगइन का इस्तेमाल करके आप इसे जनरेट कर सकते है।  

4. Keyword selection

Local searches में ये सबसे ज्यादा असर करता है। लोकल SEO करनेसे पहले आपके बिज़नेस के लिए आपको एक Strong Keyword की जरुरत होगी।


अगर आप का बिज़नेस सिर्फ आपके शहर में सिमित है तो आपको इसके ऊपर ज्यादा फोकस करना पड़ेगा। यहाँ पे आप long tail keyword पे फोकस कर सकते है।


आप ऐसे कीवर्ड ढूंढ लीजिये जिनका उपयोग आपकी शहर में किया जाता है। इससे आपको लोकल कस्टमर बहुत आसान तरीके से मिल जायेंगे।

5. Testimonials and Reviews 

ऑनलाइन की दुनिया में review की भूमिका बहुतही महत्वपूर्ण होती है। Review से हमें पता चलता है की कोई service याफिर product अच्छा है या नहीं।


ज्यादातर लोग ऑनलाइन शॉपिंग करते समय review जरूर पढ़ते है। लोकल सर्चेस के बारेमें भी

ऐसा ही होता है।


गूगल की सर्च लिस्टिंग अच्छे अच्छे reviews दिख जाते है तो लोग वह पे जरूर विजिट करते है। आप भी अपने कस्टमर से अपने बिज़नेस के बारे positive review की डिमांड कीजिये।


वेबसाइट पे अगर testimonial का ऑप्शन है तो वहा भी testimonial लिख दीजिये। यहासे भी आपको गूगल को पता चल जाता है की लोग आप के बिज़नेस को पसंद करते है। 

6. Fast loading

लोकल सर्चेस करते समय ज्यादातर लोग मोबाइल का इस्तेमाल करते है। हर बार आप मोबाइल को high speed wi-fi से कनेक्ट नहीं कर सकते।

आजभी इंडियामें लोग 3G याफिर 4G का इस्तेमाल करते है। हर शहर के लोकेशन की हिसाब से आपको स्पीड मिलता है। 

ऐसेमें अगर आपकी वेबसाइट ओपन होने में ज्यादा समय लगता है तो आपका बहुत बड़ा नुकसान है। इसलिए आप पहले page speed को बढ़ने की कोशिश कीजिये।

7. Mobile Friendly

गूगलपे किये जाने वाले ज्यादातर लोकल सर्चेस मोबाईल से किये जाते है। ज्यादातर केसेस में ऐसे सर्चेस तब किये जाते है जब लोग घर से बाहर होते है और उन्हें उनकी आजुबाजु में किसी सर्व्हिस की तलाश होती है।


ऐसे में आपकी वेबसाइट मोबाईल फ्रेंडली नहीं है तो लोग आपतक पहुँचनेसे पहले ही वेबसाइट क्लोज करेंगे। इसे आप को बिज़नेस में भारी नुकसान हो जाता है। इसलिए आपके वेबसाइट की page speed के ऊपर थोड़ा ध्यान दीजिये।

8. Multimedia

आपके वेबसाइट में इमेजेस की भूमिका बहुत ही महत्वपूर्ण है। Google My Business में जब आपके बिज़नेस का रिजल्ट आएगा तो वहाँ पे कुछ attractive images जरूर दिखने चाहिए। ये एक बहुत बड़ा इम्प्रेशन है।

लोगों का ज्यादा ध्यान टेक्स्ट से ज्यादा इमेजेस पे जाता है। अगर आप बिज़नेस के संबंधित कुछ अच्छे इमेजेस या विडिओ पोस्ट करते है तो उसका बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है।

इसलिए इमेजेस का इस्तेमाल आपको जरूर करना चाहिए।

9. Focus on service

आपको कस्टमर बढ़ाने के लिए सर्व्हिस के उपर सबसे ज्यादा फोकस करना पड़ेगा। आप कितना भी SEO करलो, अगर कस्टमर आप के सर्व्हिस को लेकर समाधानी नहीं है तो आपको रैंक होने से कुछ फायदा नहीं होगा।


इसके विपरीत आप अच्छी सर्व्हिस देते है तो लोग अपने आप अच्छा बोलेंगे। आपके सर्व्हिस के बारे में बाकि लोगों को बताएँगे, सोशल मीडिया पे उसकी चर्चा करेंगे। ऐसे करने से गूगल आप की अथॉरिटी बढ़ाएगा जो रैंक इम्प्रूव करेगा।

इस फैक्टर्स को अगर आप अच्छी तरीकेसे implement करते है तो आपको अच्छा रिजल्ट मिलेगा। अगर


Summary
Local SEO in hindi
Article Name
Local SEO in hindi
Description
Local SEO एक तकनीक है जिसमें हम अपनी business website इसतरह optimize करते है की वो किसी विशिष्ट क्षेत्रों या शहरोंकी local searches में सबसे उपर आ जाये।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *